बुखार

अवलोकन
  • बुखार में शरीर का तापमान सामान्य से अधिक होता हैं (सामान्य तापमान - 370 सी या 98.60 एफ)
  • यह शरीर में होने वाली असामान्य प्रक्रिया का संकेत करता हैं
  • बुखार एक लक्षण हैं बीमारी नहीं
  • इसे ‘पाइरेक्सिया‘ भी कहा जाता हैं
  • हल्का बुखार 98.80 एफ से 100.80 एफ
  • हल्के से मध्यम बुखारः 1010 एफ से 1030 एफ
  • तेज बुखारः 1040एफ और उससे अधिक।
कारण
  • मौसम
  • बचपन में टीकाकरण
  • बैक्टीरियल/वायरल संक्रमण
  • धूप में अधिक समय व्यतीत करना
  • दवाओं/भोजन की एलर्जी ।
लक्षण
  • गर्म लाल चेहरा
  • भोजन में कम रुचि
  • मतली आना
  • उल्टी आना
  • सिर और शरीर में दर्द रहना
  • कब्ज रहना
  • दस्त लगना
  • तेज बुखार के साथ बेहोशी आ सकती हैं
  • ऐंठन।
उपचार
  • थर्मामीटर का उपयोग कर तापमान का पता लगायें।
  • अतिरिक्त कपड़े निकाल देवें।
  • व्यक्ति को एक शांत स्थान पर रखें ।
  • हल्के गुनगुने पानी में स्पंज के साथ स्नान करवाएं ।
  • पर्याप्त तरल पदार्थ दें ।
  • एसिटामिनोफेन/पेरासिटामोल की निर्धारित खुराक दें ।
  • बुखार में व्यक्ति को एस्पिरिन दवा मत दें ।
  • बीमार व्यक्ति को कंबल/गर्म कपड़ों में मत लपेटें ।
निम्न मामलों में चिकित्सक से सलाह करें यदि -
  • सांस अनियमित हैं
  • गर्दन में अकड़न हैं
  • किसी तरह कोई भ्रम हैं
  • शरीर पर चकत्ते दिखाई देते हैं
  • लगातार गले में खराश हैं
  • उल्टी आ रही हैं
  • दस्त लगे हैं
  • पेशाब आने में तकलीफ हो रही हैं
  • शरीर में ऐँठन/अकड़न हैं।