Medindia

X

टिक बाइट


अवलोकन
  • चीचड़ी बहुत छोटे, कीट जैसे जीव होते हैं
  • वे छोटे या रबड़ जितने आकार के रूप में बड़े भी हो सकते हैं
  • वे आम तौर पर खेतों और जंगलों में पाए जाते हैं
  • वे मानव, पालतू जानवरों या अन्य जानवरों के साथ चिपक जाते हैं
  • एक बार शरीर पर चिपक जाने के बाद वे अन्‍य गर्म, नमी वाले क्षेत्रों में चले जाते हैं
  • शरीर में उनका पसंदीदा बसेरा बाल, बगल और कमर होता है
  • एक बार शरीर से कसकर चिपक जाने के बाद, वे खून चूसना शुरू कर देते हैं
  • वे हानिरहित या हानिकारक स्थिति उत्‍पन्‍न कर सकते हैं।
 
Advertisement
लक्षण
  • चकत्ते, लाली, खुजली
  • प्रभावित स्‍थान पर सूजन
  • मांसपेशियों या जोड़ों में दर्द
  • जोड़ों की सूजन
  • लसीका ग्रन्थि (लिम्फ नोड) की सूजन
  • फ्लू जैसे लक्षण
  • बुखार
इनके वे लक्षण जिनमें आपात उपचार की आवश्‍यकता होती है -
  • बहुत तेज सरदर्द
  • छाती में दर्द
  • घबराहट
  • सांस लेने में कठिनाई
  • पक्षाघात ।
उपचार
  • चीचड़ी को बडी सावधानीपूर्वक सिर से पकड़ कर चिमटी का उपयोग करके निकाल दें
  • पूरी चीचड़ी को निकालें
  • चीचड़ी को मत कुचलें
  • चीचड़ी को एक बोतल में डाल कर सीलबंद कर दें
  • आपके चि‍कित्‍सक को जानकारी प्रदान करने के लिये किया जाता है
  • प्रभावित अंग को साबुन और पानी के साथ अच्‍छी तरह धो दें
  • अपने हाथ भी अच्छी तरह धोएं
  • यदि आप चीचड़ी को निकालने में असमर्थ रहते हैं तब चिकित्सा सहायता प्राप्‍त करें।
Advertisement
निवारण
  • जब आप जंगल में ऊंची घास में घूमते हैं तब ऐसे कपड़े और जूते पहनें जो आपको पूरी तरह से ढक दें
  • कमीज को पैंट के भीतर घुसा दें
  • पैरों को अच्छी तरह ढकने के लिए मोजे ऐसा या जुराबें पैंट के ऊपर चढ़ा दें
  • हल्के रंग के कपड़े पहनें ताकि आप आसानी से चीचड़ी को देख पाएं
  • अपने कपड़ों पर कीट निरोधक स्प्रे करें
  • जब आप बाहर जाते हैं, चीचड़ी के लिए अक्सर अपने कपड़ों की जाँच करते रहें
  • घर लौटने पर, कपड़ों की अच्छी तरह से चीचड़ी के लिये जाँच करें।
Advertisement