नियमित व्यायाम मधुमेह रोगियों की दवा की मांग में 20% तक कमी करता हैं और व्‍यायाम करने से पहले और बाद में रक्त शर्करा के स्तर की जांच करना, व्‍यायाम नियमित जारी रखने के लिये प्रेरित करता हैं। व्यायाम के कई लाभ हैं और इनमें शामिल हैं:

1. रक्त शर्करा के स्तर का नियंत्रण: हमारे शरीर में ग्लूकोज ऊर्जा का प्रमुख स्रोत हैं। शारीरिक गतिविधि ग्लूकोज का उपयोग करती हैं और रक्त में ग्लूकोज के स्तर को कम करने में मदद करती हैं। शारीरिक गतिविधि करने से भी इंसुलिन प्रतिरोध कम हो जाता हैं। कुछ अध्ययनों में भी यह संकेत दिया गया हैं कि गतिविधि करने से लाल रक्त कोशिकाओं में इंसुलिन ग्रहण करने वाले तत्वों में वृद्धि होती हैं। इन सबसे ग्लाइकोसिलेटेड हीमोग्लोबिन के स्तर (तीन महीने का रक्त शर्करा के स्तर का सामान्य परीक्षण) को सामान्य रखने में मदद मिलती हैं।

2. हृदय के कामकाज में सुधार:मधुमेह प्रकार 2 के व्यक्तियों को आमतौर पर हृदय रोग (धमनियों का सख्‍त होना, हृदय आघात और स्ट्रोक) अधिक होते हैं। व्यायाम हृदय-श्वसन की तंदरूस्‍ती या फिटनेस को निम्‍न तरीकों से बढ़ाता हैं-
  • रक्तचाप कम करते हुए
  • खराब कोलेस्ट्रॉल (ट्राइग्लिसराइड) को कम करता हैं
  • और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एच डी एल) में वृद्धि करता हैं।
  • 3. मनोवैज्ञानिक लाभ:शारीरिक गतिविधि तंदरूस्ती, सकारात्मक दृष्टिकोण और जीवन की गुणवत्ता के सुधार के साथ जुड़ी हुई हैं।

    4. वजन नियंत्रण:शारीरिक गतिविधि मोटे या अधिक वजन वाले व्यक्तियों को वजन कम करने में मदद करती हैं और उन्हें स्वस्थ बी एम आई बनाए रखने में भी मदद करती हैं।