निष्कर्ष

व्यायाम रोग की गंभीरता और मधुमेह की दीर्घकालिक जटिलताओं को कम कर देता हैं।

एक अच्छी तरह से योजनाबद्ध और नियमित व्यायाम कार्यक्रम, अगर रोजमर्रा की ज़िंदगी का हिस्सा बनता हैं तब वह बहुत लाभदायक हो सकता हैं,खास करके उस व्यक्ति को जिसे मधूमेह या डायबिटीज हैं। व्यायाम करने से रक्त शर्करा के स्तर को अतिरिक्त दवाईयां लिये बिना भी नियंत्रित किया जा सकता हैं।

कुल मिलाकर नियमित व्यायाम न केवल रक्त शर्करा के बेहतर नियंत्रण में मदद कर सकता हैं बल्कि वजन और रक्तचाप के नियंत्रण में भी मदद करता हैं क्योंकि यह खराब कोलेस्ट्रॉल को कम कर के रक्त में अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता हैं। व्यायाम हृदय रोग और तंत्रिका क्षति के जोखिम को कम कर सकता हैं, जिनके होने की संभावनाये मधुमेह रोगियों में सबसे अधिक होती हैं।

निष्क्रिय लोगों का दिल मुरझाया रहता हैं, लेकिन हम में से जो लोग जो व्यायाम नहीं करते हैं उनके शरीर निस्‍तेज होते हैं।- ब्रूस बी डैन, 1984