चोट

अवलोकन

  • नरम ऊतकों की चोट को ब्रुज़ेज कहते हैं
  • यह त्वचा का 'मलिनकिरण का क्षेत्र' हैं
  • अन्य नाम - हेमटोमा, भीतरी चोट
  • यह कई दिनों या महीनों तक रह सकता हैं ।

  • कारण
    • खेल की चोटें
    • दुर्घटनाए
    • गिरना
    • किसी वस्तु से या लोगों से आघात लगना
    • कई दवाओ के सेवन से चोट के बढ़ने की संभावनाए हो जाती है, जैसे एस्पिरिन।
प्रकार
  • सबक्युटेनिअस-त्वचा के नीचे
  • इंट्रामस्क्युलर - मांसपेशियों के भीतर
  • पेरिओएस्टियल-ब्रुज़- हड्डी से संबंधित ।
संबंधित घटनाए
  • त्वचा के नीचे छोटी नसों और केशिकाएं टूट जाती हैं
  • रक्त बह कर त्वचा के नीचे जमा हो जाता हैं
  • शुरुआत में घाव बैंगनी या लाल दिखते हैं
  • 2 दिनों में यह काले या नीले रंग के हो जाते हैं
  • 5 दिनों में यह हरे या पीले रंग में बदल जाते हैं
  • 10-14 दिनों में एक भूरे रंग के छाया में परिवर्तित हो जाते हैं
  • धीरे धीरे ये हल्के हो कर दूर हो जाते हैं
  • बदलते रंग लाल सेल के चयापचय को इंगित करते हैं।
लक्षण
  • दर्द
  • सूजन
  • उपचार मलिनकिरण ।
उपचार
  • ज्यादातर चोटें 2 सप्ताह में गायब हो जाती हैं
  • अगर त्वचा टूटी नहीं हैं, तो पट्टी की कोई भी जरूरत नहीं है
  • चोट के स्थान को ऊँचा उठा कर रखें
  • ठंडे कपडे को चोट पर दबायें, लेकिन एक समय में एक घंटा या आधे घंटा से अधिक ना रखें
  • दो दिनों तक इसे जारी रखें
  • त्वचा पर सीधे बर्फ न लगायें
  • दर्दनाशक दवाएं ले सकते हैं, जैसे एसिटामिनोफेन
  • सुई का उपयोग करके खरोंच को दूर करने का प्रयास न करें
  • चोट वाले हिस्से का उपयोग न करें
  • अधिक गंभीर चोटों के लिए डॉक्टर से परामर्श करें
  • स्वाभाविक चोट और संक्रमण के मामले में भी परामर्श करें
  • प्रोटीन-बायोफ्लैविनोइड्स-विट सी वाले गरिष्ट खाने में मदद करता हैं
रोकथाम
  • बच्चों को सुरक्षा उपाय सिखाएं
  • घर में गिरने से बचें
  • ड्राइविंग करते समय सीट बेल्ट पहनें
  • सवारी करते हुए हेलमेट पहनें
  • खेल के दौरान,अक्सर-चोट वाले स्थान पर पैड पहने ।