सीने का दर्द

सीने का दर्द

Average
2.5
Rating : 12345
Rate This : 1 2 3 4 5
अवलोकन 
  • गर्दन और पेट के बीच, दर्द या असुविधा की भावना,
  • सीने में दर्द होने से दिल का दौरा पड़ने की संभावनायें बढ़ जाती हैं,
  • सीने का कोई भी ऊतक या अंग दर्द का कारण बन सकता हैं,
  • 'एनजाइना' ह्दय से संबंधित सीने का दर्द हैं।
कारण

दिल से संबंधित कुछ हल्की और कुछ जानलेवा समस्याएं
  • दमा
  • निमोनिया
  • फेफड़ों में सूजन
  • सूजन या पसलीयों की मांसपेशियों में तनाव
  • चिंता
  • अपच या पेट में अल्सर
  • पित्ताशय की थैली में पथरी
  • दाद
  • तनाव ।
लक्षण

छाती में दर्द या दबाव के साथ निम्न भी हो सकता हैं:
  • छाती में जलन,
  • उल्टी,
  • चक्कर आना
  • सांस न आना
  • बुखार ।
 इलाज

यदि आप को अस्थमा या एनजाइना हैं तो अपनी दवा नियमित रूप से लेवें,

1. एसिटामिनोफेन और इबुप्रोफेन जैसी दवाओं मदद मिल सकती हैं, लेकिन डॉक्टर से परामर्श करें, यदि-
  • दर्द, बुखार या खांसी बनी रहती हैंतो,
  • दर्द फैल रहा हो तो,
  • आराम करते हुये एनजाइना हो तो,
  • खांसी में पीला-हरा कफ आ रहा हो तो,
  • दबाव या जकड़न होती हो तो,
  • मतली,
  • चक्कर आना,
  • श्वास की तकलीफ,
  • पसीना आ रहा हो तो ।
2. अस्पताल में भर्ती होना आवश्यक हो सकता हैं और ई.सी.जी. जैसे टेस्ट भी करने पड़ सकते हैं ।

 निवारण
  • सामान्य वजन बनाए रखें,
  • नियमित रूप से, 30 से 40 मिनट तक व्यायाम करें,
  • रक्तचाप (बी.पी.), मधुमेह, कोलेस्ट्रॉल की जाँच करें और इन्हें नियंत्रण में रखें,
  • धूम्रपान से बचें,
  • तनाव को नियंत्रित रखें,
  • कम वसा वाला संतुलित आहार लेंवें,
  • स्वास्थ्य-जांच नियमित रूप से करें ।

Medindia Newsletters

Subscribe to our Free Newsletters!

Terms & Conditions and Privacy Policy.

Advertisement