मसूड़ो से रक्त स्राव

अवलोकन  
  • रोग के प्रगतिशील होने से दाँतों में छेद होने लगते हैं,
  • मसूड़ों की रक्तस्राव की पुरानी बिमारी से हो सकता हैं कि दांत टूट जाये।
कारण
  • कमज़ोर मौखिक स्वच्छता
  • प्लाक की अपर्याप्त सफाई
  • मौखिक आघात जैसे कि टूथब्रश से घर्षण होना
  • संक्रमण की वजह से सूजन
  • विटामिन सी’या‘के’विटामिन की कमी
  • गर्म भोजन
  • रासायनिक उत्तेजक पदार्थ
  • लुकिमिया
  • गर्भावस्था ।
इलाज
  • बर्फ पैक से दबावें,
  • गुनगुने पानी में चुटकी भर नमक ड़ाल कर गार्गल या गरारे करे,
  • सूजन कम करने के लिए दिन में दो बार गरारे करें,
  • यदि रक्त स्राव जारी हैं तो दंत चिकित्सक से परामर्श करें,
  • एस्पिरिन का सेवन ना करें,
  • मसूड़ों की नियमित रूप से मालिश करें,
  • डेन्चर ठीक से ना लगे हो तो फिर से लगवायें,
  • यदि आवश्यक हो तो विटामिन की खुराक लेवें। 
निवारण
  • तंबाकू सेवन से बचें,
  • भोजन के बीच नाश्ता करने से बचें,
  • कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन का सेवन कम करें,
  • हर 6 महीने में प्लाक की सफाई करें,
  • नरम दांत वाले ब्रश से दाँत साफ करें,
  • दाँत को नियमित रूप से फ्लॉस करें।