मधुमेह – आवश्यकताएं

Average
3.7
Rating : 12345
Rate This : 1 2 3 4 5

मधुमेह - स्वस्थ नाश्ता

मधुमेही को यदि हाइपोग्लाइसीमिया या शक्कर की कमी हो गई हैं तो उन्हें चाहिये कि वे स्वास्थवर्धक नाश्ता करें ना कि मिठाईयों या चॉकलेट खायें। जैसे कि सब्जीयुक्त सैंडविच, एक फल, बिस्कुट, छाछ या पतला दूध इत्यादि।

जो लोग विशिष्ट प्रकार के ओरल हाइपोग्लाइसेमिक एजेंट (ओएचए) या लघु-क्रियाशील इंसुलिन (4-6 घंटे के असरवाली) पर हैं तो उन्हें अपने साथ नाश्ता रखना बहुत आवश्यक हैं।

भोजन छुट्ने या न करने के कारण से कभी-कभी हाइपोग्लाइसीमिया का आघात हो सकता हैं। जैसे कि जब हम बाहर शॉपिंग करने या सुबह के समय अस्पताल में जांच कराने के लिये जाते हैं और दोपहर के भोजन के पहले का अल्पाहार छुट जाता हैं, यह तब होता हैं।

यह बहुत महत्‍वपूर्ण हैं कि आप बाहर जाते समय फलों या बिस्कुट के पैकेट अपने साथ ले जाएं और सही समय पर (मध्य सुबह या मध्य शाम) को इन्‍हें खाना याद रखना चाहिए। चूंकि लघु सक्रिय इंसुलिन इंजेक्शन का असर लगाने के 2-2.5 घंटे के बाद होता हैं, इसलिये उस समय आपको स्वस्थ नाश्ता करना बहुत आवश्‍यक हैं।

Medindia Newsletters

Subscribe to our Free Newsletters!

Terms & Conditions and Privacy Policy.